ट्रक मालिकों के लिए खुशखबरी अब गलत टोल कटौती पर पैसा वापस होगा जल्द और अपने आप


गुरुग्राम (अमन इंडिया)।गुरुग्राम स्थित ट्रकिंग टेक्नोलॉजी स्टार्टअप, WheelsEye ने गलत FASTag कटौती के लिए तुरंत अलर्ट और जल्द रिफंड की सुविधा शुरू की है। इस सुविधा से उन लाखों ट्रक मालिकों को मदद मिलेगी जो अब तक एक्स्ट्रा टोल कटौती की परेशानियों को झेल रहे हैं। WheelsEye के अनुसार, उनका आधुनिक FASTag मैनेजमेंट सिस्टम गलत टोल कटौती का ऑटोमेटिकली पता लगाएगा और 3 से 7 दिनों के भीतर पैसा देगा. पहले ये प्रक्रिया शिकायत दर्ज करने के बाद तक़रीबन 30 दिनों में होता था।

ट्रक मालिकों की मदद करने के लिए जानी जाने वाली WheelsEye पहली और एकलौती ऐसी कंपनी है जिसने नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) और बैंकों के साथ मिलकर यह सुविधा शुरू की है। WheelsEye का सिस्टम पहले गलत टोल कटौती की खुद पहचान करके रिपोर्ट करता है और फिर बैंकों के साथ मिलकर गलती से कटा हुआ पैसा वापस FASTag में जमा करा देता है। 

PTI की एक रिपोर्ट के अनुसार, FASTag के माध्यम से रोजाना लगभग 65 करोड़ रुपये टोल राशि जमा होती है, जिसमें से लगभग 40 करोड़ रुपये केवल कमर्शियल ट्रक वाहन मालिकों द्वारा दिया जाता है। WheelsEye द्वारा किए गए हालिया सर्वेक्षण में बताया गया, "रोजाना टोल भुगतान के तक़रीबन 3% मामलों में टोल गलती से ज्यादा काटा गया होता है। इस समय देश के ज्यादातर ट्रक मालिक FASTag सिस्टम की त्रुटि का खामियाजा भुगत रहे हैं। और तो और, गलत टोल कटने पर सुनवाई भी तेजी से नहीं होती। हमारा उद्देश्य ऐसे ट्रक मालिकों को इस दुविधा से बचाना है। इसलिए, WheelsEye गलत टोल कटौती पर ऑटो अलर्ट और जल्द पैसा वापसी की सुविधा लाया है।

IDFC बैंक के प्रवक्ता ने कहा, "डबल/गलत टोल कटौती खासकर ट्रक मालिकों के लिए अनुमान से भी अधिक बड़ी समस्या बन गई है। WheelsEye की यह पहल FASTag सिस्टम पर ट्रक मालिकों का भरोसा मजबूत करेगी और उन्हें FASTag अपनाने के लिए प्रोत्साहित भी करेगी।

WheelsEye के प्रवक्ता सोनेश जैन ने कहा कि, “टोल संग्रह प्रणाली अभी भी लागू की जा रही है। तकनीक में छोटी मोटी गलतियां आती रहती है ,और इसका खामियाजा ट्रक मालिकों को भुगतना पड़ता है। हमारा मुख्य लक्ष्य ट्रकों मालिकों की FASTag परेशानियों को कम से कम करना है। इसके लिए हमारी टीम ने ट्रक मालिकों, NPCI और बैंकों के साथ मिलकर स्वतः और जल्द पैसा वापस करने की पूरी प्रक्रिया को महीनों से समेट कर सिर्फ 3-7 दिन में ला दिया है। जून 2021 के अंत तक हमारा मुख्य उद्देश्य तत्काल पैसा वापस करना है।

अब तक किसी अन्य कंपनी ने गलत टोल कटौती के समस्या को हल नहीं किया है। इस कदम से साल 2021 के अंत तक WheelsEye को देश का सबसे बड़ा FASTag सेवा प्रदाता बनने की उम्मीद है।"


2017 में शुरू की गई WheelsEye Technolgy गुरुग्राम ka ek yuva लॉजिस्टिक स्टार्टअप है, जिसका मुख्य उद्देश्य ट्रक maalikon ko तकनीकी सहायता प्रदान करना है। WheelsEye फास्टैग एक मंच से कई ट्रकों के टोल भुगतान को मैनेज करने में ट्रक मालिकों की मदद करते हैं। अब तक, WheelsEye पूरे FASTag वॉल्यूम का 10% मैनेज करता है, जो कि इसे FASTag भुगतान के 3 सबसे बड़े शेयरधारकों में से एक बनाता है।

Popular posts
एन आर डब्ल्यू ए सेक्टर 15 के चुनाव में निर्विरोध जीते अध्यक्ष सहित सभी पदाधिकारियों को प्रमाण पत्र दिए
Image
ग्रेटर नोएडा वेस्ट फ्लैट बॉयर्स की संस्था नेफोमा ने अधूरे पड़े प्रोजेक्ट के लिए मीटिंग की
Image
फोर्टिस बोन एंड ज्‍वाइंट इंस्‍टीट्यूट, शालीमार बाग ने अपनी ऑर्थोपिडिक सेवाओं को मजबूत किया
Image
हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद ने 23वें हस्तशिल्प निर्यात पुरस्कार समारोह का आयोजन किया
Image
डीएफएम फूड्स के सहयोग से ममता हेल्थ इंस्टीट्यूट फॉर मदर एंड चाइल्ड द्वारा संचालित परियोजना सजग के अंतर्गत समाजसेवी सम्मानित किया
Image