उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल नोएडा ईकाई की आज जूम मीटिंग में लॉकडाउन में व्यापारियों की आ रही समस्याओं पर चर्चा की गई



नोएडा (अमन इंडिया)। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल नोएडा ईकाई की आज जूम मीटिंग में लॉकडाउन में व्यापारियों की आ रही समस्याओं पर चर्चा की गई


। 

इस मौके पर नोएडा इकाई के अध्यक्ष नरेश कुच्छल सहित जूम में शामिल अन्य प्रतिनिधियों ने कहा कि नोएडा के व्यापारी लॉकडाउन में कोविड नियमों का पालन करते हुए बहुत कम संख्या में दुकान खोलकर अपना कार्य कर रहे हैं। साथ ही ऐसे दुकानदार पूरी ईमानदारी, निष्ठा के साथ आम जनता को सहूलियत देते हुए उचित दर पर समान बेच रहे हैं।

 हालांकि उन्होंने कहा कि आम जनता के बीच महंगे दामों पर सामानों की बिक्री करने के दोषी जो भी लोग शामिल हैं, उसपर प्रशासन कड़ी कार्रवाई भी करे, ताकि कोरोना काल में आम नागरिक शोषण का शिकार न हो।

उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि ऐसे चंद जालसाज लोग ही हैं जो इस तरह के कार्य करने में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि नोएडा में सभी व्यापारी उचित रेट पर ही सामान बेचकर गुजारा कर रहे हैं और उन्होंने सभी व्यापारियों से आग्रह किया कि वे उचित दर पर ही अपनी दुकानों से समान का बिक्री करें। वे ज्यादा मुनाफा के चक्कर में न पड़ें।

नरेश कुच्छल ने प्रशासन को आगाह किया कि कोरोना काल में ई-रिक्शा, थ्री व्हीलर, निजी परिवहन बसों में कोविड-19 नियमों का पालन ठीक ढंग से नहीं किया जा रहा है जिससे नोएडा शहर में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन को इस तरफ त्वरित कार्यवाही करते हुए ऐसे लोगों पर सख्त एक्शन लेना चाहिए।

 प्रतिनिधि मंडल के चेयरमैन रामअवतार सिंह ने कहा कि सरकार द्वारा वर्तमान विषम परिस्थितियों में लॉक डाउन लगाया गया है। ऐसे में सरकार को व्यापारियों के हितों का भी ख्याल रखना चाहिए तथा जीएसटी, आयकर, बैंक ब्याज, विभिन्न ईएमआई, संपत्ति कर, मेडिकल बीमा, बिजली बिल, स्कूल फीस आदि में व्यापारियों को छूट देकर राहत प्रदान किया जाए ताकि व्यापारियों को कुछ संबल प्राप्त हो सके।

उन्होंने ₹10,00000 की दुर्घटना बीमा योजना कोरोना काल से जोड़े जाने की भी वकालत की। नरेश कुच्छल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री का आभार जताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने व्यापारियों के उत्पीड़न पर जो भरोसा दिया है, उस पर प्रशासन को अमल करना चाहिए, ताकि व्यापारी वर्ग कोई दुविधा व भ्रम में न रहकर पूरी ईमानदारी, निष्ठा के साथ अपना व्यापार कर सकें।

महामंत्री दिनेश महावर ने बताया कि कोयले के व्यापारियों को लॉकडाउन में छूट देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि छोटे-छोटे ठेले, पटरी, ढाबे के भोजन उपलब्ध करनेवाले दुकानदार तक कोयला की आपूर्ति नहीं हो पा रही। ऐसे में कोयला व्यापारियों को ई -पास की सुविधा मिलना चाहिए।

 इस जूम मीटिंग में अध्यक्ष नरेश कुच्छल, चेयरमैन रामअवतार सिंह, वरिष्ठ महामंत्री मनोज भाटी, महामंत्री दिनेश महावर, उपाध्यक्ष पीयूष वालिया सत्यनारायण गोयल, संदीप चौहान, मूलचंद गुप्ता आदि शामिल रहे।

Popular posts
इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा आईईई यूपी सेक्शन के सहयोग से AICTE-ATAL प्रायोजित व्यावसायिक विकास कार्यक्रम (पीडीपी) का आयोजन
Image
मणिपाल हॉस्पीटल में हमलोग छह दशक से ज्यादा समय से हेल्थकेयर सेक्टर के प्रति समर्पित
Image
कोलंबिया एशिया हॉस्पीटल्स – मणिपाल हॉस्पीटल्स की एक इकाई ने मरीजों के लिए विश्व स्तर की मल्टी स्पेशियलिटी सेवाएं शुरू की
ट्रैफिक की समस्याओं के समाधान के लिए ट्रैफिक पुलिस आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन किया
Image
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गौतमबुद्धनगर आगमन पर समीक्षा बैठक की
Image