डेटॉल बीएसआई और विप्रो जीई हेल्थकेयर ने कोविड-19 से निपटने के लिए की साझेदारी

डेटॉल बीएसआई और विप्रो जीई हेल्थकेयर ने कोविड-19 से निपटने के लिए की साझेदारी


 


 इस पार्टनरशिप प्रोग्राम के जरिए महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के समुदायों में फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तक पहुंच बनाई जा रही है 


 साझेदारी के तहत कुल 770 फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जाना है, पहले चरण ने अब तक प्रभावित समुदायों में कोविड -19 महामारी पर 250+ फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करके अब तक 143,164 लोगों के जीवन को बदला है।


 


नई दिल्ली(अमन इंडिया): सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली को बढ़ाने पर ध्यान देने के साथ, विप्रो जीई हेल्थकेयर इंडिया के साथ साझेदारी में आरबी द्वारा संचालित एक प्रमुख फ्लैगशिप कार्यक्रम ‘डेटॉल बनाएगा स्वस्थ इंडिया’ ने कोविड -19 के उग्र प्रसार के बीच फ्रंट लाइन स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया। । एकीकृत साझेदारी कार्यक्रम का उद्देश्य महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के 250 से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों को प्लान इंडिया और जागरण पहल के जमीनी समर्थन से प्रशिक्षित करना है।


 


कोविड-19 के चलते भारत के कुछ सबसे कमजोर समुदायों को "संकट के भीतर एक और संकट" का सामना करना पड़ रहा है। भारत में संयुक्त राष्ट्र (यूएन) द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, कमजोर आबादी, खासकर महिलाओं और बच्चों पर संकट के प्रभाव को लेकर बड़ी चिंताएं हैं। इनमें से कुछ चिंताओं मे आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में व्यवधान और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं / सहायता को लेकर कम ध्यान दिया जा पाना। इसके अलावा, जमीनी स्तर पर कोविड-19 से लड़ने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य सहायता प्रणाली इन अभूतपूर्व चुनौतियों को देखते हुए कमजोर पड़ रही है।


 


इस मुद्दे की गंभीरता को देखते हुए घबराहट के माहौल का प्रबंधन और बीमारी के सामुदायिक प्रसार पर उचित ढंग से अंकुश लगाने के लिए, दो प्रमुख स्वास्थ्य संगठनों ने भारत में आशा कार्यकर्ताओं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, महिला स्वास्थ्य शिक्षकों और संबद्ध फ्रंट लाइन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को ताकत देने के लिए भागीदारी की है।


 


साझेदारी की इस पहल पर टिप्पणी करते हुए आरबी हेल्थ के दक्षिण एशिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष  गौरव जैन ने कहा, “हम डेटॉल में इस अभूतपूर्व महामारी को लेकर काफी चिंतित हैं और इसका असर देश भर में हमारे स्वास्थ्य देखभाल योद्धाओं के कमजोर पड़ने के रूप में सामने आया है। हम समझते हैं कि हमारे फ्रंट-लाइन कार्यकर्ताओं को सामुदायिक समर्थन और सही अपग्रेड स्किल सेट की जरूरत है, क्योंकि उन्हें जमीनी स्तर पर स्क्रीनिंग और जागरूकता सृजन की महत्वपूर्ण भूमिका सौंपी गई है। फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का समर्थन करने के दृष्टिकोण के साथ, भारतीय आबादी के # 1 विश्वसनीय साथी डेटॉल और विप्रो जीई हेल्थकेयर ने सटीक ज्ञान और अपग्रेड स्किल सेट प्रदान करने के लिए हाथ मिलाए हैं। हम आशा करते हैं कि इस प्रशिक्षण के साथ, सामुदायिक स्वास्थ्य और पोषण कार्यकर्ता अपने क्षेत्र के कर्तव्यों को पूरा करने में सक्षम होंगे और कोविड -19 महामारी से निपटने के लिए कुशल स्क्रीनिंग और जागरूकता गतिविधियों को अंजाम देते रहेंगे। हम एक बेहतर स्वास्थ्य वाले राष्ट्र के उद्देश्य के साथ सेवा करना, शिक्षित बनाना और सहयोग करना जारी रखेंगे। ”


 


विप्रो जीई हेल्थकेयर के मैनेजिंग डायरेक्टर  नलिनीकांत गोलागुंता ने कहा, “हमें आरबी और 'डेटॉल बनाएगा स्वस्थ भारत’ पहल के साथ साझेदारी करने पर अत्यधिक गर्व है, जिससे फ्रंटलाइन हेल्थकेयर कार्यकर्ताओं को कोविड -19 से निपटने की ताकत मिलेगी। हेल्थकेयर उद्योग में जीई हेल्थकेयर के लंबे अनुभव ने हमें सिखाया है कि जागरूकता, रोकथाम और इलाज के लिए एक बुनियादी दृष्टिकोण इस पैमाने के स्वास्थ्य संकट से निपटने में ज्यादा प्रभावी होता है। इस साझेदारी ने दोनों संगठनों को एक साथ आने और कोविड -19 महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई में अपनी खास ताकतों को तैनात करने की अनुमति दी है। हम इस साझेदारी को मजबूत बनाने और स्वस्थ भारत बनाने में अपनी भूमिका निभाने के लिए तत्पर हैं। ”


Popular posts
इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा आईईई यूपी सेक्शन के सहयोग से AICTE-ATAL प्रायोजित व्यावसायिक विकास कार्यक्रम (पीडीपी) का आयोजन
Image
मणिपाल हॉस्पीटल में हमलोग छह दशक से ज्यादा समय से हेल्थकेयर सेक्टर के प्रति समर्पित
Image
कोलंबिया एशिया हॉस्पीटल्स – मणिपाल हॉस्पीटल्स की एक इकाई ने मरीजों के लिए विश्व स्तर की मल्टी स्पेशियलिटी सेवाएं शुरू की
ट्रैफिक की समस्याओं के समाधान के लिए ट्रैफिक पुलिस आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन किया
Image
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गौतमबुद्धनगर आगमन पर समीक्षा बैठक की
Image