कोर्सेरा ने 4,000 पाठ्यक्रमों का हिन्‍दी में किया अनुवाद और भारतीय छात्रों के लिए लॉन्च किया नया एआई फीचर

 


 

- नए छात्रों की वृद्धि और पाठ्यक्रम पंजीकरण में भारत सर्वोच्च स्थान पर है

- एग्‍जीक्‍यूटिव और फाउंडेशनल साक्षरता को बेहतर बनाने के लिए जनरेटिव एआई अकादमी का अनावरण 

दिल्‍ली (अमन इंडिया ) ।  अग्रणी ऑनलाइन शिक्षण प्‍लेटफॉर्म, कोर्सेरा इंक (NYSE: COUR) ने भारत में उच्‍च गुणवत्‍ता वाली शिक्षा तक पहुंच में सुधार और देश में छात्रों और संस्थानों की स्थानीय जरूरतों को बेहतर ढंग से पूरा करने के लिए कई नई पहलों की घोषणा की है। इन पहलों में ऑनलाइन पढ़ाई को अधिक व्‍यक्तिगत और इंटरैक्टिव बनाने के लिए शिक्षण सामग्री की एक बड़ी श्रृंखला को हिन्‍दी में और एआई संचालित फीचर के साथ पेश करना शामिल है। अब, शीर्ष पाठ्यक्रम जैसे डीपलर्निंग.एआई की ओर से जनरेटिव एआई फॉर एवरीवन, याले यूनिवर्सिटी से द साइंस ऑफ वेल-बीईंग  यूनिवर्सिटी ऑफ मिशीगन से  प्रोग्राम फॉर एवरीबडी और आईबीएम से व्‍हाट इज डेटा साइंस? जो अभी तक केवल अंग्रेजी में उपलब्‍ध हैं, हिन्दी बोलने वाले किसी भी व्‍यक्ति के लिए सुलभ होने जा रहे हैं। 

कोर्सेरा ने नए एंटरप्राइज और कैम्‍पस ग्राहकों की भी घोषणा की है क्‍योंकि देशभर के संस्‍थान अपने कर्मचारियों और छात्रों को डिजिटल कौशल से लैस करने के लिए ऑनलाइन शिक्षण को अपना रहे हैं। प्‍लेटफॉर्म पर 2.34 करोड़ से ज्‍यादा छात्रों और 5.7 करोड़ पंजीकरण के साथ, भारत वैश्विक स्‍तर पर कोर्सेरा के लिए दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता आधार है। 

कोर्सेरा के सीईओ जेफ मैगीऑनकाल्‍डा का कहना है, "भारत की 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्‍यवस्‍था बनने की महत्‍वाकांक्षा कुशल कार्यबल विकसित करने और अपने जनसांख्यिकीय लाभांश को अधिकतम करने की क्षमता पर निर्भर करेगा" उन्‍होंने आगे कहा "हमारा लक्ष्‍य सभी के लिए उच्‍च गुणवत्‍ता वाली शिक्षा उपलब्‍ध कराना है, चाहे वो कोई भी भाषा बोलते हों, और आज इस लक्ष्‍य की दिशा में हमनें एक बड़ा कदम उठाया है। हमनें 4,000 से ज्‍यादा पाठ्यक्रमों को हिन्‍दी में अनुवाद करने के लिए एआई का इस्‍तेमाल किया है, जो भारत में छात्रों को डिजिटल भविष्‍य के लिए कौशल विकसित करने हेतु अभूतपूर्व पहुंच और अवसर देगा।"  

भारत में कोर्सेरा द्वारा शुरू की जाने वाली नई पहल और फीचर्स इस प्रकार हैं: 

हिन्‍दी अनुवाद: भारत में सबसे लोकप्रिय कुछ पाठ्यक्रमों सहित 4,000 से ज्‍यादा पाठ्यक्रम अब हिन्दी में उपलब्‍ध हैं, जैसे डीपलर्निंग.एआई और स्‍टैनफोर्ड से सुपरवाइज्ड मशीन लर्निंग: रिग्रेशन एंड क्लासिफिकेशन, याले से फाइनेंशियल मार्केट्स और  डीप टीचिंग सॉल्‍यूशंस से सीखना कैसे सीखें आदि। छात्र कोर्स रीडिंग, लेक्‍चर वीडियो सबटाइटल्‍स, क्विज, असेसमेंट, पिअर रिव्‍यू निर्देश और डिसकशन संकेतों को अब अपनी स्‍थानीय भाषा में पढ़ सकेंगे। भारत के शीर्ष शिक्षण संस्‍थानों के 40 से ज्‍यादा पाठ्यक्रमों जैसे बिट्स पिलानी के इंट्रोडक्‍शन टू प्रोग्रामिंग, आईआईएम अहमदाबाद के  लीडरशिप स्किल  और इंडियन स्‍कूल ऑफ बिजनेस के  ट्रेडिंग बेसिक्‍स  को भी फ्रेंच, स्‍पेनिश, जर्मन और थाई सहित 18 भाषाओं में अनुवादित किया जाएगा, जिससे भारत को  शिक्षा का एक वैश्विक केंद्र बनने का लक्ष्‍य हासिल करने में मदद मिलेगी। 

जेनएआई एकेडमी लॉन्‍च: इसे स्‍टैनफोर्ड ऑनलाइन, वेंडरबिल्‍ट, डीपलर्निंग.एआई, गूगल क्लाउड, और एडब्‍ल्‍यूएस सहित सर्वश्रेष्ठ यूनिवर्सिटीज और कंपनियों द्वारा विकसित फाउंडेशनल साक्षरता और एग्‍जीक्‍यूटिव एजुकेशन प्रोग्राम को पेश करने के लिए डिजाइन किया गया है। लार्सन एंड टुब्रो भारत में पहला उद्यम है, जिसने अपने संपूर्ण कार्यबल को स्‍ट्रक्‍चर्ड डिजिटल साक्षरता प्रदान करने के लिए कोर्सेरा के जेनएआई एकेडमी की सेवाएं ली हैं।    

कोर्सेरा कोच (बीटा)  कोर्सेरा प्‍लस सब्‍सक्राइर्ब्‍स के लिए :  यह एक जेनएआई-संचालित वर्चुअल लर्निंग असिस्टेंट है जो व्यक्तिगत प्रतिक्रिया प्रदान करता है, प्रश्नों का उत्तर देता है, और वीडियो लेक्‍चर और संसाधनों को सारांशित करता है। कोच स्थानीय भाषा में बातचीत के माध्‍यम से छात्रों की मदद करेगा। 

कोर्सेरा कोर्स बिल्‍डर: मानव लेखकों के संकेतों के आधार पर, एआई-संचालित कोर्स-बिल्डिंग टूल कोर्स स्‍ट्रक्‍चर, डिसक्रिप्‍शन, रीडिंग्‍स, असाइनमेंट्स और शब्‍दावली सहित पाठ्य सामग्री को ऑटो-जनरेट करेगा। कंपनियां और कैम्‍पस प्राइवेट ऑथरिंग के लिए भी इस फीचर का उपयोग कर सकते हैं, खुद के पाठ्यक्रम बनाने के लिए अपने आंतरिक विशेषज्ञों का उपयोग कर सकते हैं और उन्‍हें कोर्सेरा पर भागीदारों की अनुशंसित सामग्री के साथ मिश्रित कर सकते हैं। 

नई और विस्‍तारित भागीदारी:  

o 45 कोर्सेरा फॉर बिज़नेस ग्राहक जैसे आदित्‍य बिड़ला ग्रुप, टाटा पावर, केपीआईटी टेक्नोलॉजीज लिमिटेड और बजाज फ‍िनसर्व, जिससे देश में कुल एंटरप्राइज ग्राहकों की संख्‍या बढ़कर 140 हो गई है।  

o 55 कोर्सेरा फॉर कैंपस ग्राहक जैसे एक्‍सएलआरआई जमेशदपुर, सोमैया विद्याविहार यूनिवर्सिटी, एलायंस यूनिवर्सिटी और एनेपॉय यूनिवर्सिटी, जिससे देश में उच्‍च शिक्षण संस्‍थानों की कुल संख्‍या बढ़कर 1,100 हो गई। 

भारतीय संस्‍थानों के लिए नए प्रोग्राम:  

o स्‍पेशलाइजेशन-  एडवांस्‍ड डिजिटल ट्रांसफोर्मेशन  - आईआईएम अहमदाबाद 

o डिग्री - मास्‍टर ऑफ साइंस इन इंफोर्मेशन टेक्‍नोलॉजी  - आईआईआईटी हैदराबाद 

राघव गुप्‍ता, मैनेजिंग डायरेक्‍टर, इंडिया और एपीएसी, कोर्सेरा ने कहा, "जेनरेटिव एआई जैसी उभरती टेक्‍नोलॉजी हमारे सीखने, सिखाने और काम करने के तरीके को बदल रही हैं। डिजिटल जॉब्‍स और रिमोट वर्क में वृद्धि के साथ, हम ग्रामीण-शहरी अंतर को पाटने और एक समावेशी कार्यबल बनाने के लिए कई सामग्री और एआई नवाचारों के साथ भारतीय छात्रों और संस्थानों को सशक्त बनाने के लिए उत्साहित हैं।” 

कोर्सेरा के बारे में 

कोर्सेरा को 2012 में दो स्टैनफ़ोर्ड कंप्यूटर साइंस प्रोफेसर्स, एंड्रू एन्ग और डैफनी कोलर द्वारा शुरू किया गया था, जिनका मिशन विश्व-क्लास शिक्षा का सार्वभौमिक उपयोग प्रदान करना था। अब यह दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन शिक्षण प्‍लेटफॉर्म में से एक है, जिसपर 30 सितंबर, 2023 तक 13.6 करोड़ से ज्‍यादा पंजीकृत शिक्षार्थी हैं। कोर्सेरा ने पाठ्यक्रम, विशेषज्ञता, प्रोफेशनल सर्टिफ‍िकेट, गाइडेड प्रोजेक्‍ट्स और बेचलर्स एवं मास्‍टर्स डिग्री सहित कंटेंट और क्रेडेंशियल्‍स की एक विस्‍तृत सूची प्रदान करने के लिए 300 से ज्‍यादा प्रमुख यूनिवर्सिटीज और इंडस्‍ट्री भागीदारों के साथ साझेदारी की है। दुनिया भर के संस्थान डेटा साइंस, टेक्‍नोलॉजी और बिजनेस जैसे क्षेत्रों में अपने कर्मचारियों, नागरिकों और छात्रों के कौशल को बढ़ाने और अधिक कुशल बनाने के लिए कोर्सेरा का उपयोग करते हैं। कोर्सेरा फरवरी 2021 में एक डेलावेयर सार्वजनिक लाभ निगम और एक बी कॉर्प बन गया।     

Popular posts
विश्व जैन संगठन मैं फ्री हेल्थ चेकअप कैंप का आयोजन किया
Image
विश्व में पत्रकारिता का आरंभ सन 131 ईस्वी पूर्व रोम में हुआ था उसी वर्ष से पहला दैनिक समाचार-पत्र निकलने लगा जिसका नाम था " ऐकटा डुरीना
Image
राष्ट्रीय अध्यक्ष बलराज भाटी ने 21 फरवरी को महापंचायत का ऐलान करते हुए रक्षा मन्त्री राजनाथ सिंह के दिल्ली आवास के घेराव के लिए दिल्ली कूच का आव्हान किया
Image
सेक्टर 34 में बहुत ही धूमधाम से मनाई गई बसंत पंचमी
Image
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम के नेतृत्व में हस्तशिल्प निर्यातकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने निर्मला सीतारमण मिले
Image