ITC ने भारतीय डाक के साथ मिलकर मिलेट्स पर एक विशेष स्टैम्प जारी किया


अंतर्राष्ट्रीय बाजरा वर्ष मनाने और श्री अन्न के लिए जागरूकता फैलाने के राष्ट्रव्यापी प्रयासों को आगे बढ़ाने की पहल

~इस पहल के माध्यम से भारत में मिलेट्स की खेती और सेवन को बढ़ावा देने के लिए लोगों को शिक्षित करने एवं सक्षम बनाने का लक्ष्य है~

 

नई दिल्ली (अमन इंडिया) : भारत में विभिन्न कारोबार संचालित करने वाली प्रमुख कंपनियों में से एक ITC ने डाक विभाग, संचार मंत्रालय के साथ सहभागिता में आज नई दिल्ली में एक विशेष डाक स्टैम्प जारी किया है। ITC के अपने मिशन मिलेट्स अभियान के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय बाजरा वर्ष के उपलक्ष्य में यह विशेष डाक स्टैम्प जारी किया किया गया है। इसका उद्देश्य श्री अन्न की खूबियों को मान्यता प्रदान करने एवं बाजरे के प्रति जागरूकता बढ़ाने के राष्ट्रव्यापी प्रयासों को मज़बूती प्रदान करना है। यह विशेष स्टैम्प केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री श्री कैलाश चौधरी द्वारा नई दिल्ली में जारी किया गया। इस अवसर पर सुश्री मंजू कुमार, चीफ पोस्ट मास्टर जनरल, भारतीय डाक, संचार मंत्रालय एवं श्री एस. शिवकुमार, ग्रुप हेड – एग्री बिजनेस, ITC लिमिटेड उपस्थित रहे। ITC अपने पोषण अभियान हेल्प इंडिया ईट बेटर और बाजरे के प्रति जागरूकता बढ़ाने हेतु प्रतिबद्ध है। यह अभियान माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में चलाया जा रहा है।

 

दुनिया भर में डाक स्टैम्प बड़े सम्मान का प्रतीक होते हैं, जो व्यक्तियों, प्रमुख सांस्कृतिक महत्व वाले समय या अभियानों को इतिहास के पन्नों में स्थान दिलाते हैं। संचार मंत्रालय के अधीन संचालित होने वाले डाक विभाग द्वारा जारी किया गया ITC मिशन मिलेट्स स्टैम्प श्री अन्न की खूबियों को मान्यता प्रदान करता है। इसके साथ ही, भारत में बाजरे की खेती को बढ़ावा देने के लिए किसानों को सक्षम बनाने एवं इसके सेवन को प्रोत्साहित करने हेतु, लोगों के बीच जागरूकता बढ़ाने वाली ITC की यात्रा में एक महत्वपूर्ण पड़ाव है।

 

ITC मिशन मिलेट्स का यह विशेष डाक स्टैम्प भारत के किसानों की महत्वपूर्ण भूमिका को स्वीकार करता है और बाजरे से बने स्वादिष्ट व्यंजनों एवं उनकी विधियों के लिए पौष्टिक खाद्य उत्पादों की स्थाई खेती में उनके योगदान को मान्यता प्रदान करता है। इस स्टैम्प में एक आकर्षक स्केच बनाया गया है, जो ITC के एग्री बिजनेस डिविजन, फूड बिजनेस डिविजन और ITC होटल के एकजुट एवं सामूहिक प्रयासों को दर्शाता है। इन प्रयासों के माध्यम से ना केवल बाजरे की स्थाई खेती को बढ़ावा मिला है, बल्कि उपभोक्ताओं को पोषण से भरपूर मिलेट्स का स्वाद पहचानने में भी मदद मिली है। ITC ने बाजरे से बने उत्पादों की रेंज विकसित की है, जो दिन भर किसी भी वक्त खाने के लिए उपयुक्त हैं और इन्हें पारंपरिक एवं आधुनिक फॉर्मेट्स में उपलब्ध कराया गया है। इन उत्पादों में रेडी टू ईट प्रोडक्ट्स, कुकीज़, नूडल्स, सेवई, चॉकोस्टिक्स, स्नैक्स तथा मल्टी मिलेट मिक्स एवं रागी आटा जैसे स्टेपल्स का समावेश है। ITC होटल्स ने भी अपने बुफे में मिलेट्स से बने विशेष व्यंजन शामिल किए हैं। यह डाक स्टैम्प खेतों से लेकर ITC की खाद्य उत्पादन फैक्ट्रियों तक और अंत में ITC होटल्स के शेफ द्वारा बनाए जाने वाले पौष्टिक व्यंजनों में समावेश तक के बाजरे के सफर को दर्शाता है। स्टैम्प का मिट्टी जैसा रंग और इस पर बना स्केच श्री अन्न एवं इनके विभिन्न फायदों को मान्यता प्रदान करता है।

 

इस कार्यक्रम में ITC की एक अन्य पहल भी शुरु की गई, जिसके अंतर्गत एक लिमिटेड एडिशन डिजिटल कलेक्टिबल स्टैम्प के माध्यम से उपभोक्ताओं को बाजरे को बढ़ावा देने के अभियान से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। डाक स्टैम्प एक यादगार विरासत का हिस्सा होते हैं, जिसे लोग बड़े लगाव के साथ जमा करते हैं। इस डिजिटल स्टैम्प के जरिये ITC उपभोक्ताओं को अपनी सक्रिय भागीदारी के जरिये मिलेट्स के लिए जागरूकता फैलाने का अवसर प्रदान कर रहा है। हर प्रकार के मौसम में खेती करने लायक और भरपूर पोषण गुणों के साथ बाजरा विकासशील देशों में सूक्ष्म पोषण की कमी दूर करने में मददगार हो सकता है। यह डिजिटल कलेक्टिबल स्टैम्प उपभोक्ताओं को अपने रोजमर्रा के भोजन तथा स्नैक्स में बाजरे को शामिल करने हेतु सक्रिय समर्थन जताने का अवसर प्रदान करता है। यह पहल ITC द्वारा किसानों को बाजरे की खेती के लिए शिक्षित एवं सक्षम बनाने तथा उपभोक्ताओं के बीच इसका सेवन बढ़ाने की पहल में अगला कदम है। उपभोक्तागण वेबसाइट www.betterwithmillets.com पर जाकर बाजरे के प्रति अपना समर्थन जता सकते हैं।

 

इस वर्ष की शुरुआत में ITC ने बाजरे को मुख्यधारा के भोजन में लाने के लिए अपने मिशन मिलेट्स की शुरुआत की थी। ITC ने अपने मिशन में स्वास्थ्य एवं स्थायित्व को शामिल करते हुए किसानों को बाजरे की खेती बढ़ाने के लिए शिक्षित एवं सक्षम बनाया है। इसके साथ ही, फूड एवं हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के साथ मिलकर उपोभक्ताओं को अपने रोजमर्रा के भोजन में बाजरे को शामिल करने में मदद की जा रही है। ITC द्वारा ITCMAARS के नेतृत्व में बाजरे की खेती में FPOs को बढ़ावा दिया जा रहा है। यह एक ‘फिजिटल’ ईको-सिस्टम है, जो किसानों के साथ हमारे सदियों पुराने जुड़ाव को डिजिटल आधुनिकिकरण के साथ जोड़ता है। हमारे एग्री बिजनेस ने महाराष्ट्र एवं आंध्र प्रदेश में इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मिलेट रिसर्च (IIMR), हैदराबाद के साथ मिलकर दो पीपीपी परियोजनाएं लागू की हैं।

 

25 जुलाई, 2023 को डाक स्टैम्प के अनावरण कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय राज्य मंत्री श्री कैलाश चौधरी ने भारत सरकार द्वारा श्री अन्न के प्रचार हेतु उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए बताया कि भारत पूरे विश्व में बाजरे का सबसे बड़ा उत्पादक और दूसरा सबसे बड़ा निर्यातक देश है। भारत के माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने इस दिशा में विभिन्न कदम उठाए हैं। इनमें अंतर्राष्ट्रीय बाजरा वर्ष – 2023 मनाने, जी20 कृषि मंत्रिस्तरीय बैठक (AMM) की मेज़बानी करने, हैदराबाद स्थित ICAR-IIMR को बाजरा (श्री अन्न) के लिए वैश्विक उत्कृष्टता केंद्र घोषित करने, अप्रैल 2018 में बाजरे को एक पोषक अन्न घोषित करने और पोषण मिशन अभियान इसका समावेश करना शामिल है।

 

श्री सुनील शर्मा, उप महानिदेशक, भारतीय डाक, ने कहा, “पूरे विश्व में डाक स्टैम्प के जरिये देश में प्रगतिशील बदलावों वाले महत्वपूर्ण सांस्कृतिक क्षणों को संजोया जाता है। ITC लिमिटेड के साथ सहभागिता में जारी किया गया यह कस्टमाइज्ड स्टैम्प दुनिया के सुपरफूड – बाजरे को मुख्य भोजन में लाने के सफर का एक अहम पड़ाव बनता है। हमारे लिए यह एक खुशी का मौका है, जो पूरे देश के सामूहिक प्रयासों का परिणाम है।”

 

इस लॉन्च के मौके पर बोलते हुए श्री एस. शिवकुमार, ग्रुप हेड, एग्री बिजनेस, ITC लिमिटेड ने कहा, “सरकार द्वारा बाजरे को मुख्यधारा के भोजन में शामिल करने की पहल का समर्थन करते हुए ITC ने ITC मिशन मिलेट्स नामक अभियान शुरु किया, जो तीन स्तंभों पर आधारित है। इनमें नए आधुनिक उत्पादों वाला एक 'गुड फॉर यू' प्रोडक्ट पोर्टफोलियो विकसित करने और एक स्थाई कृषि व्यवस्था लागू करना शामिल है। इस कृषि व्यवस्था को बाजरे का महत्व बढ़ाने और बाज़ार से जोड़ने पर मुख्य जोर देने वाली एक ठोस मिलेट्स एग्री वैल्यू चेन का समर्थन मिलेगा। इसके अलावा, मिलेट्स के फायदों के बारे में उपभोक्ताओं के बीच जागरूकता बढ़ाने पर भी जोर दिया जाएगा, जो पोषण के हिसाब से एक बेहतरीन भोजन विकल्प है। भारतीय डाक के साथ सहभागिता में जारी किया गया यह प्रतिष्ठित पोस्टल स्टैम्प ITC द्वारा जागरूकता बढ़ाने के प्रति समर्पण को दर्शाता है और बाजरे के लिए एक विस्तृत बाजार तैयार करने के हमारे सामूहिक उद्देश्य की पुष्टि करता है।”

 

ITC के मिशन मिलेट के बारे में

ITC लिमिटेड ने अपने हेल्प इंडिया ईट बेटर अभियान हेतु प्रतिबद्धता के तहत जनवरी 2023 में मिशन मिलेट्स अभियान शुरु किया है। इसका उद्देश्य बाजरे को मुख्य भोजन में शामिल करने और साथ ही ब्रांड की प्रोडक्ट्स पेशकश का हिस्सा बनाना है। कंपनी ने हर मौसम में खेती लायक बाजरे के बेहतरीन पोषण गुणों को पहचानते हुए यह कदम उठाया है।

 

ITC के एग्री बिजनेस किसानों, उत्पादकों एवं उपभोक्तओं के बीच बाजरे के बारे में जागरूकता निर्माण करने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं। ITC अपने मौजूदा ई-चौपाल और एफपीओ सहित अन्य किसान नेटवर्क के साथ मिलकर बाजरे सहित विभिन्न फसलें उगाने वाले किसानों के साथ काम कर रही है।

 

ITC फूड्स ने अपनी प्रोडक्ट रेंज में बाजरे को शामिल करते हुए Sunfeast Farmlite बिस्किट और Aashirvaad रागी एवं मल्टी-मिलेट आटा पेश किया है। इसके अलावा, कंपनी द्वारा कई अन्य मिलेट आधारित उत्पाद जैसे कि नूडल्स, पास्ता, सेवई, चॉको स्टिक आदि लॉन्च करने की योजना है। बाजरे को अधिक आकर्षक एवं आसानी से उपलब्ध कराने के लिए, ITC फूड्स द्वारा बेहतर स्वास्थ्य पर केंद्रित फूड प्रोडक्ट्स, अपने क्लाउड किचन्स से बाजरे से बने भोजन और बाजरे के स्वादिष्ट व्यंजन पेश किये जाते हैं, जो ITC होटल्स के एक्सपर्ट शेफ द्वारा तैयार किये गए हैं।

 

बाजरे पर यह फोकस ITC होटल की उस परिकल्पना पर ज़ोर देता है, जिसके तहत पर्यावरण अनुकूल सामग्रियों का इस्तेमाल करते हुए मेहमानों के लिए पौष्टिक एवं स्वादिष्ट भोजन पेश किये जाते हैं। ITC के एक्सपर्ट शेफ बाजरे से आसान रेसिपी विकसित कर रहे हैं, जिससे लोगों को बाजरे के स्वाद को आजमाने के लिए प्रोत्साहित करने में मदद मिलेगी।


Popular posts
नोएडा पंजाबी एकता समिति द्वारा गुरद्वारा में बैसाखी का उत्सव बहुत ही धूमधाम से मनाया गया
Image
सीके बिड़ला हॉस्पीटल®, दिल्ली ने जटिल और एडवांस ब्रैस्ट कैंसर से पीड़ित दो महिला मरीजों का रोबोटिक-एसिस्टेड ब्रैस्ट प्रीज़र्वेशन सर्जरी की मदद से सफल उपचार किया
Image
लिवर सिरोसिस में शराब की एक बूंद भी नुकसानदेह
Image
फिजिक्स वाला ने दिल्ली में अपना पाँचवाँ टेक-इनेबल्ड ऑफ़लाइन विद्यापीठ सेंटर लॉन्च किया
भाजपा का संकल्प अगले 5 वर्षों तक मुफ्त राशन, गैस कनेक्‍शन और PM सूर्य घर से जीरो बिजली बिल का सपना होगा साकार, फिर एक बार मोदी सरकार
Image