पंचायतों की आवाज पंचायत परिषद से जुड़ें: अय्यर

गुडगांव (अमन इंडिया ) ।  'पंचायत परिषद किसी दल का नहीं है। हम चाहते हैं कि पंचायतों की आवाज पंचायत परिषद से जुड़ें।' यह बात पूर्व कैबिनेट मंत्री मणिशंकर अय्यर ने कोलकाता में आयोजित सम्‍मेलन में कही। इस सम्‍मेलन का आयोजन 24 अप्रैल को राष्‍ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर कोलकाता में हुआ।


मौलाली युबा केंद्र कोलकाता में आयोजित सम्‍मेलन में देश के कई दिग्‍गजों ने हिस्‍सा लिया। इसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री मणि शंकर अय्यर ने कहा कि पंचायत परिषद से अगर आवाज उठाई गई और उसको सुनने के लिए विधानसभा तैयार होनी चाहिए। पंचायत राज का मतलब है कि जनता खुद तय कर सके कि मामला चलाया जाए। पंचायत परिषद ने पंचायत की आवाज सुनकर इस फैसले पर पहुंचा है। अगर आवाम की तरफ से यह मांग है कि पार्टी लेस पंचायत के चुनाव हो तो कदम उठाने की जरूरत है। आपको तय करना है कि इसमें किस तरह के बदलाव लाए जाने चाहिए।

इस दौरान ऑल इंडिया पंचायत परिषद के अध्‍यक्ष सुबोध कांत सहाय ने सम्‍मेलन में आए सभी लोगों का अभिवादन किया। उन्‍होंने कहा कि यहां सभी धर्मों, भाषा व क्षेत्र के लोग एकजुट हुए हैं। पंचायत परिषद सभी पंचायतों की आवाज है। यह सभी पंचायतों को सशक्‍त बनाने के अपने अभियान में पूरी तरह से जुटा हुआ है। इस मौके पर ऑल इंडिया पंचायत परिषद के अध्‍यक्ष सुबोध कांत सहाय, पूर्व कैबिनेट मंत्री मणि शंकर अय्यर, ऑल इंडिया पंचायती राज परिषद के उपाध्‍यक्ष डीपी राय, पंचायत परिषद के कार्यवाहक अध्‍यक्ष डॉ अशोक चौहान, पंचायत परिषद तेलंगाना के समन्‍वयक एमए जलील,  ऑल इंडिया पंचायत परिषद के सचिव जानु रामचंद्रैया,  पंचायत परिषद के मीडिया सलाहकार बद्री नाथ, चंदन पाल, सुक्रिति रंजन बिस्‍वान और सुग्रीव मौजूद रहे।


Popular posts
नोएडा पंजाबी एकता समिति द्वारा गुरद्वारा में बैसाखी का उत्सव बहुत ही धूमधाम से मनाया गया
Image
सीके बिड़ला हॉस्पीटल®, दिल्ली ने जटिल और एडवांस ब्रैस्ट कैंसर से पीड़ित दो महिला मरीजों का रोबोटिक-एसिस्टेड ब्रैस्ट प्रीज़र्वेशन सर्जरी की मदद से सफल उपचार किया
Image
लिवर सिरोसिस में शराब की एक बूंद भी नुकसानदेह
Image
फिजिक्स वाला ने दिल्ली में अपना पाँचवाँ टेक-इनेबल्ड ऑफ़लाइन विद्यापीठ सेंटर लॉन्च किया
भाजपा का संकल्प अगले 5 वर्षों तक मुफ्त राशन, गैस कनेक्‍शन और PM सूर्य घर से जीरो बिजली बिल का सपना होगा साकार, फिर एक बार मोदी सरकार
Image