हर बुखार डेंगू नहीं : डॉ डीके गुप्ता



नोएडा (अमन इंडिया)।


मई की तपती गर्मी में डेंगू मच्छर के पैदा होने का खतरा है। लेकिन मच्छर के काटने से होने वाला हर बुखार डेंगू नहीं होता। रोग से बचाव के लिए सावधानी जरूरी है।डेंगू के लक्षण दिखने पर तुरंत जांच करवाएं। डेंगू के प्रति जागरूकता के लिए 16 मई को नेशनल डेंगू दिवस मनाया जाता है।

फेलिक्स अस्पताल के चेयरमैन और पीडियाट्रिशियन डॉ. डीके गुप्ता के अनुसार डेंगू आमतौर पर मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से फैलता है। मच्छर के काटने के तीन से पांच दिन के बाद डेंगू बुखार के लक्षण दिखने लगते हैं। डेंगू होने पर मरीज के ब्‍लड में प्लेटलेट्स की संख्या तेजी से कम होने लगती है जिसके कारण कई बार रोगी की जान का खतरा तक बन जाता है। डेंगू में शरीर का तापमान बढ़ जाता है और बुखार के साथ ठंड भी लगने लगती है। इसके अलावा भूख कम लगने के साथ ब्लडप्रेशर भी गिरने लगता है जिसके फलस्वरूप चक्कर आते हैं। जब रोगी गंभीर अवस्था में पहुंच जाता है तब ये लक्षण और भी बढ़ जाते हैं, जैसे कि पेट में तेज दर्द होना, लीवर और सीने में फ्लूइड का जमा होना, खून में प्लेटलेट्स का कम होना, रक्तस्राव आदि। डेंगू शुरुआत में सामान्य बुखार के जैसा ही प्रतीत होता है। डेंगू होने पर अधिक आराम करें। शरीर में पानी की कमी नहीं होने दें। तरल पदार्थों का सेवन करते रहें। साफ, स्वच्छ एवं मच्छरों से बचाव कर सोए। और बीमारी का पता लगते ही जल्द ही नजदीकी अस्पताल में डॉक्टर से परामर्श लें |

Popular posts
पर्यवेक्षक सतेन्द्र शर्मा ने दिल्ली में यूपी काँग्रेस की विधानमंडल दल की नेता विधायक एमसीडी चुनाव में स्टार प्रचारक आराधना मोना मिश्रा से मुलाकात की
Image
फोर्टिस हेल्थकेयर ने देश के सबसे बड़े और एकमात्र साइकोलॉजी क्विज़ साइक-एड के ग्रैंड फिनाले का आयोजन
इंडिया कस्टमर सर्विस में एमजी लगातार दूसरे साल शीर्ष पायदान पर
Image
41 वे अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला का हुआ समापन पर उत्तर प्रदेश के एक जनपद एक उत्पाद से जुड़े हुनरबंदों एवं कारीगरों की सरहानाः आयुक्त एवं निदेशक मयूर महेश्वरी
Image
नीरज खन्ना को नए उपाध्यक्ष-II के रूप में स्वागत किया
Image