फेयरगेज़ और इंडिया इज़ अस द्वारा नौएडा में पैड वितरण अभियान चलाया गया

 फेयरगेज़ (FairGaze) और इंडिया इज़ अस (IndiaIsUs) द्वारा नौएडा में पैड वितरण अभियान चलाया गया



महामारी के दौरान माहवारी संबंधी स्वास्थ्य और स्वच्छता पर कोई लॉकडाउन नहीं


नोएडा(अमन इंडिया)। फेयरगेज़(FairGaze) औरइंडियाइज़अस (IndiaIsUs - I2U Social Foundation) ने मिलकर खोरा कालोनी, नौएडा में महिलाओं और लड़कियों को मुफ्त में सैनिटरी पैड बांटे गए। इस कार्यक्रम को Unicharm (इसके CSR कार्यक्रम के अंतर्गत) द्वारा समर्थित किया गया। पैड वितरण अभियान को #OneDayForMensturalHygiene अभियान के अंतर्गत I2U के साझेदार सशक्त फाउंडेशन (ShashaktFoundation) नामकNGO के सहयोग से चलाया गया, जिसके तहत दिल्ली और NCR की मलिनबस्तियों में 50,000 सैनिटरी नैपकिन बांटने का उद्देश्य था। महिलाओं के स्वास्थ्य की बुनियादी ज़रूरत के रूप में इस अभियान का उद्‌देश्य इस संवेदनशील विषय को चर्चा में लाने का है। इस कार्यक्रम में माहवारी के समय साफ-सफाई का महत्त्व, सैनिटरी पैड का उपयोग और इसके महत्त्व आदि विषयों को कवर किया गया।

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण2015-2016 के अनुसार केवल 36 महिलाएं ही सैनिटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं, अर्थात माहवारी वाली 336 मिलियन महिलाओं में से केवल 121 मिलियन महिलाएं ही सैनिटरी नैपकिन इस्तेमाल करती हैं जो स्थानीय स्तर पर या वाणिज्यिक रूप से उत्पादन किए जाते हैं। अब भी भारत में 300 मिलियन से अधिक महिलाएं पुराने कपड़ों /चिथड़ों पर निर्भर रहती हैं। ये चिंताजन आंकड़े, माहवारी संबंधी स्वास्थ्य और स्वच्छता की विधियों के प्रचार-प्रसार तथा सैनेटरी नैपकिन तक पहुँच की तत्काल ज़रूरत साबित करते हैं।

 विवेक आत्रेय,सलाहकार, फेयरगेज़(FairGaze) ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि, "केवल आपातस्थितियों और संकट के समय प्रतिक्रिया करने के बजायमाहवारीस्वच्छता के बारे में जागरूकता फैलाने केलिए हमें लगातार प्रयास करने होंगे।” उनके विचार में यह अभियान, एक आवश्यक परिवर्तन लाने की दिशा में अच्छी शुरूआत है।   अलीशा प्रमुख,I2U ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि, "हम #OneDayForMenstrualHygiene अभियान को उदारता से सहयोग देने के लिए यूनिचार्म (Unicharm) और सशक्त (Shashakt) के आभारी हैं। माहवारी संबंधी स्वच्छता के लिए सुरक्षित और टिकाऊ उत्पाद सभी के लिए सुलभ होने चाहिए। ये कोई विलासिता नहीं बल्कि ज़रूरत हैं।”


 

Popular posts
इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा आईईई यूपी सेक्शन के सहयोग से AICTE-ATAL प्रायोजित व्यावसायिक विकास कार्यक्रम (पीडीपी) का आयोजन
Image
मणिपाल हॉस्पीटल में हमलोग छह दशक से ज्यादा समय से हेल्थकेयर सेक्टर के प्रति समर्पित
Image
कोलंबिया एशिया हॉस्पीटल्स – मणिपाल हॉस्पीटल्स की एक इकाई ने मरीजों के लिए विश्व स्तर की मल्टी स्पेशियलिटी सेवाएं शुरू की
ट्रैफिक की समस्याओं के समाधान के लिए ट्रैफिक पुलिस आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन किया
Image
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गौतमबुद्धनगर आगमन पर समीक्षा बैठक की
Image