भारत में 10 लाख रुपये से सस्ती टॉप 5 ऑटोमैटिक कारें


नई दिल्ली (अमन इंडिया)। भारत में खास तौर पर सस्ती कारों के बाजार की बात करें तो यहां ऑटोमैटिक कारें तेजी से लोकप्रिय हो रही हैं। आज जहां सड़कों पर भीड़ बढ़ रही है और शहरों का विस्तार हो रहा है, ऐसे में आपका सफर भी लंबा होता जा रहा है। ऐसे दौर में जहां भारतीय ग्राहक बेहतर माइलेज के साथ आरामदायक ड्राइविंग अनुभव की तलाश में हैं, वहीं ऑटोमेटिक कारों की मांग और भी बढ़ने की उम्मीद है। ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन वाली छोटी कारें अब कम कीमत और कई गियरबॉक्स विकल्पों के साथ उपलब्ध हैं। इससे खरीदारों को बेहतर विकल्प चुनने के लिए व्यापक रेंज मिल रही है, साथ ही यह ऑटोमैटिक सेगमेंट के विस्तार में भी मदद कर रहा है।


भारत में, प्रमुख रुप से मौजूद ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन तकनीकों में ट्रेडीशनल ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन (AT), ऑटोमेटेड-मैनुअल ट्रांसमिशन (AMT), कंटीन्युअसली वेरिएबल ट्रांसमिशन (CVT), डुअल-क्लच ट्रांसमिशन (DCT) और डायरेक्ट शिफ्ट गियरबॉक्स (DSG) शामिल हैं। आपके लिए 10 लाख रुपये के बजट में उपलब्ध टॉप 5 ऑटोमैटिक कारों की सूची यहां दी गई है।


1. फॉक्सवैगन पोलो 1.0 TSI AT

भारत में फॉक्सवैगन के प्रमुख मॉडल, पोलो को 2020 में तीन-सिलेंडर 1.0 टीएसआई इंजन और 6-स्पीड टॉर्क कन्वर्टर में बदल दिया गया है। 6-स्पीड टॉर्क कनवर्टर स्मूथ शिफ्टिंग प्रदान करता है और बेहद तेज है, यह इसे पहले से अधिक फ्यूल एफिशिएंट बनाता है। इसके अलावा, पोलो की पहचान रहा सॉलिड राइड-एंड-हैंडलिंग पैकेज नई 1.0 टीएसआई एटी को एक शानदार विकल्प के रूप में पेश करता है।

कीमत (पोलो एटी): 9.59 लाख रुपये से 10 लाख रुपये (एक्स-शोरूम)


2. मारुति सुजुकी बलेनो / टोयोटा ग्लैंजा सीवीटी

मारुति की बलेनो और टोयोटा की ग्लैंजा फीचर-लोडेड, किफायती और भरोसेमंद हैचबैक विकल्प हैं, जो इन्हें भारतीय ग्राहकों की पहली पसंद बनाते हैं। बलेनो और ग्लैंजा दोनों में सीवीटी ट्रांसमिशन दिया गया है, यह एक स्मूथ और आरामदेह ड्राइविंग अनुभव प्रदान करता है। ये खूबियां इन कारों को शहरी परिस्थिति में ड्राइविंग का एक बेहतरीन विकल्प बनाती हैं।

कीमत: बलेनो - 7.91 लाख रुपये से 9.30 लाख रुपये / ग्लैंज़ा - 8.54 लाख रुपये से 9.30 लाख रुपये (सभी कीमतें एक्स-शोरूम)

3. होंडा अमेज़ सीवीटी

होंडा अमेज़ बेहतरीन फ्यूल एफिशिएंसी के साथ ही ग्राहकों को ढेर सारी जगह और आरामदायक अनुभव प्रदान करती है। यह कार सीवीटी में पेट्रोल और डीजल दोनों में उपलब्ध है। होंडा अमेज़ भारत की पहली और एकमात्र डीजल-सीवीटी कार है। होंडा की इस सेडान कार को लॉन्च के बाद से ही भारतीय बाजार में बेहतरीन रिस्पॉन्स मिल रहा है।

कीमत: 7.93 लाख रुपये से 10 लाख रुपये (एक्स-शोरूम)

4. निसान मैग्नाइट / रेनॉल्ट काइगर


रेनॉल्ट और निसान की साझेदारी में पेश ये दोनों कॉम्पैक्ट एसयूवी ढेरों खूबियों से लैस हैं। भारत में बिक्री के मामले में ये दोनों बेहतरीन प्रदर्शन कर रही हैं। दोनों कारें एक जैसी मजबूती और ड्राइवट्रेन विकल्प में उपलब्ध हैं। मैग्नाइट सीवीटी तीन वेरिएंट्स- XL, XV और XV प्रीमियम में उपलब्ध है। जबकि काइगर को एक्स-ट्रॉनिक सीवीटी के साथ दो वेरिएंट्स- RXT और RXZ में पेश किया गया है।

कीमत (मैग्नाइट सीवीटी): 8.39 लाख रुपये से 9.89 लाख रुपये (एक्स-शोरूम)

कीमत (काइगर सीवीटी): 8.60 लाख रुपये - 9.75 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) 


5. हुंडई वेन्यू 1.0 टर्बो DCT

कॉम्पैक्ट एसयूवी, हुंडई वेन्यू अपने आकर्षक लुक्स, फीचर्स और 10 लाख रुपये के बजट में ऑटोमैटिक गियरबॉक्स विकल्प के साथ ग्राहकों के बीच काफी लोकप्रिय है। टर्बो वर्जन में 118 बीएचपी का थ्री-सिलेंडर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन दिया गया है, जो अत्याधुनिक 7-स्पीड डुअल-क्लच ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से जुड़ा हुआ है। यह इंजन गियरबॉक्स रिफाइंड, स्मूथ और पावरफुल है, ऐसे में यह रोज की ड्राइविंग और तेज रफ्तार क्रूज़िंग दोनों के लिए ही उपयुक्त है। 

कीमत: 9.78 लाख रुपये (एक्स-शोरूम)

Popular posts
पर्यवेक्षक सतेन्द्र शर्मा ने दिल्ली में यूपी काँग्रेस की विधानमंडल दल की नेता विधायक एमसीडी चुनाव में स्टार प्रचारक आराधना मोना मिश्रा से मुलाकात की
Image
फोर्टिस हेल्थकेयर ने देश के सबसे बड़े और एकमात्र साइकोलॉजी क्विज़ साइक-एड के ग्रैंड फिनाले का आयोजन
इंडिया कस्टमर सर्विस में एमजी लगातार दूसरे साल शीर्ष पायदान पर
Image
41 वे अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला का हुआ समापन पर उत्तर प्रदेश के एक जनपद एक उत्पाद से जुड़े हुनरबंदों एवं कारीगरों की सरहानाः आयुक्त एवं निदेशक मयूर महेश्वरी
Image
नीरज खन्ना को नए उपाध्यक्ष-II के रूप में स्वागत किया
Image