फेलिक्स हॉस्पिटल सेक्टर 137 ने मॉर्निंग वॉक का आयोजन किया

 

नोएडा (अमन इंडिया ) । महिलाओं को स्वस्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए फेलिक्स हॉस्पिटल सेक्टर 137 ने मॉर्निंग वॉक का आयोजन किया


| वॉक का उदेश्य महिलाओं को उनकी हेल्थ प्रति जागरूक करना था | 

वॉक के साथ-2 स्वास्थ्य अधिकारियों ने महिलाओं को बताया कि हर सुबह नियमित तौर पर टहलना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। महिंलाओं के भागदौड़ भरे जीवन में उनके पास समय ही नहीं होता। अधिकतर महिलाएं सुबह उठ कर और नहा धो कर, नाश्ता कर के काम पर निकल जाती हैं। हालांकि समय की कमी से बड़ी परेशानी है हमारी दृढ़ इच्छा में कमी। थोड़ा सा टाइम मैनेजमेंट यानी समय प्रबंधन कर लें तो टहलने के लिए आसानी से समय निकल सकता है। हर दिन पैदल चलने से हमारा स्वास्थ्य अच्छा रहता है और ऐसा करना हमें कई तरह की बीमारियों से भी बचाता है। 

यह तो हम सभी जानते हैं कि मोटापा घटाने या वजन कम करने के लिए टहलना कितना महत्वपूर्ण होता है। पैदल चलने से हमारी कैलोरी बर्न होती है, शरीर पसीना छोड़ता है और फैट कम होने से वजन भी कम होता है। फेलिक्स के सीनियर ऑर्थोपेडिक के मुताबित नियमित टहलने वाले लोगों को हिप फ्रैक्चर का खतरा करीब 43 फीसदी  कम हो जाता है। 

हृदय रोगों से बचाव अनियमित खानपान और खराब जीवनशैली के बीच बड़ी संख्या में लोग हृदय रोग के शिकार हो रहे हैं। हृदय रोगियों को भी डॉक्टर सुबह टहलने की सलाह देते हैं।

डिप्रेशन से बचाव भागदौड़ भरी जीवनशैली में पढ़ाई, करियर और काम के बोझ के बीच तनाव होना आम बात है। दोस्तों या रिश्तेदारों से थोड़ी कहासुनी हो जाए तो तनाव हो जाता है। तनाव ज्यादा हो तो आदमी डिप्रेशन में जा सकता है। रोज टहलने की आदत हमें इस स्थिति से भी बचाती है। पैदल चलने से हमारे शरीर की कोशिकाओं की एक्सरसाइज हो जाती है और हमारे मस्तिष्क की सक्रियता भी बढ़ती है। ऐसा करना आपको डिप्रेशन से बचाव में मदद करता है।

ब्रेन स्ट्रोक का खतरा कम सुबह मॉर्निंग वॉक करने से हमें ताजी हवा मिलती है और हमारा मूड फ्रेश होता है। रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक सुबह टहलना हमें ब्रेन स्ट्रोक जैसी स्थिति से भी बचाता है। पूरे हफ्ते में दो से ढाई घंटे पैदल चलने से भी ब्रेन स्ट्रोक का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। 

डायबिटीज से बचाव देश में करोड़ों लोग डायबिटीज से जूझ रहे हैं। इसी डायबिटीज के कारण जिंदगी बेस्वाद हो जाती है। इससे बचने के लिए खानपान पर नियंत्रण रहना तो जरूरी है ही, रोजाना पैदल चलना भी आपको इस बीमारी से बचाता है। पैदल चलने से शरीर के खून में मौजूद अतिरिक्त शुगर बर्न होता है।इस प्रकार आप सिर्फ एक आदत को अपनी दिन चर्या में शामिल कर, स्वस्थ जीवन जी सकते है | डॉ डी के गुप्ता , संस्थापक फेलिक्स हॉस्पिटल ने कहा की महिलाएं हमारे समाज की कड़ी है , इनको स्वस्थ रखने में सहयोग करना हम सबका दायित्व है |

Popular posts
नॉएडा इंटरप्रिनियोर्स एसोशिएसन ने वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुकेश कक्कड़ के नेतृत्व में ग्रेटर नॉएडा में अमृत महोत्सव के अंतर्गत घर घर तिरंगा अभियान निकाला
Image
अध्यक्ष धीरज कुमार और महासचिव ऋषि कुमार ने सभी सफाई कर्मी और सुरक्षा गार्डों को रक्षाबंधन पर्व पर मिठाई बांटी
Image
नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन द्वारा भव्य तिरंगा यात्रा का आयोजन किया
Image
श्रीकांत की गिरफ्तारी नहीं होने पर सपा पूरे शहर में प्रदर्शन करेगी : पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी
Image
फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्‍टीट्यूट के डॉक्‍टरों ने फंगल एंडोकार्डिटिस से पीड़ि‍त 70 वर्षीय मरीज़ का सफल इलाज
Image