महिला के सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्ध है डेलाॅइट ग्लोबल

 


पुनीत रंजन की 5 बातें, जिसका लोहा पूरी दुनिया मानने को तैयार 


 


 दिल्ली (अमन इंडिया)। हरियाणा के एक छोटे कस्बे से निकल डेलॉइट ग्लोबल के सीईओ बनने वाले पुनीत रंजन की सोच का लोहा पूरी दुनिया मानती है। अमेरिका के पश्चिमी तट पर पोर्टलैंड शहर से उन्होंने पूरी दुनिया के 250 से अधिक युवा महिलाओं से आॅनलाइन बात करते हुए ‘इम्पैक्ट डे’ में डेलॉइट के सत्र की शुरुआत की। इम्पैक्ट डे वर्ल्डक्लास कर शुरुआत वर्ष 2017 में स्वयं रंजन ने भारत में 10 मिलियन स्त्रियों और लड़कियों सहित पूरे विश्व में 50 मिलियन लोगों को वर्ष 2030 तक अवसरों से भरी दुनिया के लिए तैयार करने के उद्देश्य से की थी।


पुनीत रंजन का कहना है कि उच्च शिक्षा के माध्यम से महिलाओं का सशक्तीकरण बेहतर तरीके से होगा। हम अपने वर्ल्डक्लास कार्यक्रम के माध्यम से इन प्रयासों का समर्थन करते हैं। यह हमारी प्रतिबद्धता है, जिसे हमने शिक्षा और कौशल-निर्माण के माध्यम से जीवन को बेहतर बनाने के लिए तय किया है। 


रंजन पाँच सुनहरे नियम प्रदान करते हैं जो डेलॉइट के साथ तीन दशकों से अधिक के करियर के दौरान उनकी मदद करते रहे हैं। सबसे पहले, कड़ी मेहनत करो। आप हमेशा कमरे में सबसे अधिक जाननेवाले व्यक्ति नहीं हो सकते हैं, लेकिन आप हमेशा वही हो सकते हैं जो सबसे कठिन काम कारते हें। दूसरा, गलतियाँ करने से न डरें। उनसे सीखें और अगली बार बेहतर करें। तीसरा, अपने आप को उन लोगों से घेरे रखें जो आपको प्रेरित करते हैं, जिन लोगों से आप सीख सकते हैं। चैथा, अपनी आवाज को महत्व देना सीखें। उपयुक्त बनने की चिंता न करें या किसी और की तरह बनने की कोशिश भी न करें। अपने मूल्यों को पकड़ें और उन चीजों के लिए बोलें, जिन पर आप विश्वास करते हैं। अंत में, उन अवसरों को आगे बढ़ाएं जो आपके रास्ते में आते हैं। इसका मतलब है कि जैसे-जैसे आप जीवन के माध्यम से आगे बढ़ते हैं, आप हमेशा दूसरों के उत्थान के तरीकों की तलाश करते हैं। इसी तरह से वास्तविक परिवर्तन होता है। 


Popular posts
एन आर डब्ल्यू ए सेक्टर 15 के चुनाव में निर्विरोध जीते अध्यक्ष सहित सभी पदाधिकारियों को प्रमाण पत्र दिए
Image
ग्रेटर नोएडा वेस्ट फ्लैट बॉयर्स की संस्था नेफोमा ने अधूरे पड़े प्रोजेक्ट के लिए मीटिंग की
Image
फोर्टिस बोन एंड ज्‍वाइंट इंस्‍टीट्यूट, शालीमार बाग ने अपनी ऑर्थोपिडिक सेवाओं को मजबूत किया
Image
हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद ने 23वें हस्तशिल्प निर्यात पुरस्कार समारोह का आयोजन किया
Image
डीएफएम फूड्स के सहयोग से ममता हेल्थ इंस्टीट्यूट फॉर मदर एंड चाइल्ड द्वारा संचालित परियोजना सजग के अंतर्गत समाजसेवी सम्मानित किया
Image