कम उम्र से ही सेवानिवृत्ति की योजना बनाने की शुरुआत करें

दिल्ली (अमन इंडिया)। 


कम उम्र से ही सेवानिवृत्ति की योजना बनाने की अखिलेश गुप्ता, चीफ इंवेस्टमेंट ऑफिसर, अवीवा इंडिया

जब आप 20 से 30 की उम्र होते हैं, अपनी पहली नौकरी में कदम रखते हैं, तो एक बड़े घर और विदेश में छुट्टियों का सपना देखता है; हालाँकि, सेवानिवृत्ति के विचार पर शायद ही कोई सोचता हो। जब आप 40 वर्ष की उम्र को पार कर गए हैं और तेजी से अपने करियर में आगे बढ़ रहे हों और इस समय मिडलाइफ क्राइसिस से गुजर रहे हों, तो सेवानिवृत्ति के विषय में जल्दी ना सोचने का आपको पछतावा होता है। अवीवा इंडिया के चीफ इंवेस्टमेंट ऑफिसर अखिलेश गुप्ता ने 20 साल की उम्र में एक मजबूत सेवानिवृत्ति योजना बनाने के बारे में अपना ज्ञान साझा किया।

अखिलेश गुप्ता कहते हैं, "सार्थक निवेश करने के लिए, आपको उनके बारे में पर्याप्त जानकारी होनी चाहिए। इसे प्राप्त करने के लिए पहला कदम पैसे के बारे में पढ़ना और जानना है। इससे आपको कम उम्र से ही वित्तीय समस्याओं और प्रक्रियाओं को समझने में मदद मिलेगी।

एक मजबूत सेवानिवृत्ति योजना के निर्माण में बजट और कंपाउंडिंग की शक्ति दो मुख्य तत्व हैं। कंपाउंडिंग की शक्ति पर बात करते हुए अखिलेश गुप्ता आगे बताते हैं, "कंपाउंडिंग ब्याज शेष राशि पर मिला हुआ ब्याज है जिसे पुनर्निवेश किया जाता है, परिणामस्वरूप, आप और अधिक ब्याज अर्जित करते हैं। यह पैसे को मल्टीप्लाई करने का सूत्र है। यदि आप बचत की शुरुआत जल्दी करते हैं, तो आप अपने पैसे को कंपाउंडिंग के द्वारा लगातार बढ़ाते जाते हैं।

अंत में, वह एसआईपी और यूलिप में निवेश करने का सुझाव देकर अपनी बात समाप्त करते हैं और दोनों के बीच अंतर बताते हैं। उन्होंने बताया, “एसआईपी एक निवेश मोड है जिसके माध्यम से आप म्यूचुअल फंड में मासिक, त्रैमासिक या अर्ध-वार्षिक निवेश कर सकते हैं। जबकि यूलिप (यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान) एक निवेश के साथ-साथ एक बीमा योजना है जहां आप स्टॉक और बॉन्ड में निवेश करते हैं, और यह मौजूदा बाजार स्थितियों के हिसाब से जुड़ा हुआ रिटर्न उत्पन्न करता है। दोनों के बीच एक अंतर यह है कि यूलिप जीवन बीमा प्रदान करता है जबकि एसआईपी ऐसा नहीं करता है।

कंपाउंडिंग की शक्ति को धन्यवाद क्योंकि इसकी वजह से आप एसआईपी और यूलिप जैसे निवेश साधनों के साथ, बीमा कवर तो ले ही सकते हैं और साथ ही अतिरिक्त आय भी उत्पन्न कर सकते हैं, जिससे आप 20 साल से 30 साल की उम्र के बीच ही एक शानदार सेवानिवृत्ति योजना बना सकते हैं। लेकिन सबसे पहला और महत्वपूर्ण कदम है पैसे की भाषा को समझना और उसे बचाना है।


 

Popular posts
पर्यवेक्षक सतेन्द्र शर्मा ने दिल्ली में यूपी काँग्रेस की विधानमंडल दल की नेता विधायक एमसीडी चुनाव में स्टार प्रचारक आराधना मोना मिश्रा से मुलाकात की
Image
फोर्टिस हेल्थकेयर ने देश के सबसे बड़े और एकमात्र साइकोलॉजी क्विज़ साइक-एड के ग्रैंड फिनाले का आयोजन
इंडिया कस्टमर सर्विस में एमजी लगातार दूसरे साल शीर्ष पायदान पर
Image
41 वे अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला का हुआ समापन पर उत्तर प्रदेश के एक जनपद एक उत्पाद से जुड़े हुनरबंदों एवं कारीगरों की सरहानाः आयुक्त एवं निदेशक मयूर महेश्वरी
Image
नीरज खन्ना को नए उपाध्यक्ष-II के रूप में स्वागत किया
Image