खाटू श्याम दिल्ली धाम जी टी करनाल रोड पर हर सपना साकार हो सकता है -घनश्याम गुप्ता जावेरी


दिल्ली (अमन इंडिया)।  दिल्ली वासियों को खाटू श्याम के दर्शन करने राजस्थान नहीं जाना पडेगा क्योकि जी टी करनाल रोड के पास एक लाख गज भूमि प्रस्तावित कर दी गई है जो खाटू श्याम दिल्ली धाम नाम से जाना जाएगा । इस जगह पर भव्य मंदिर के साथ साथ 36 धाम, 36 घाट व 19 मंजिला अत्याधुनिक धर्मशाला, रात्रि में 1100 केंडल लाइट में बाबा के दर्शन, फलावर शॉप, गर्भ गुफा में बाबा के अदभुत दर्शन 1500 किलो अष्टधातु से बनी शिलापट, यज्ञशाला, राधिका वाटिका, गौशाला, 24 घंटे भंडारा सुविधा, 25 फीट नीचे गीर गाय के गोबर से निर्मित व्यासपीठ, भारत माता धाम, योग सेंटर, बजुर्गो के लिए ट्राम द्वारा दर्शन की सुविधा होगी ये कहना था श्री खाटू श्याम विशाल मंदिर दिल्ली धाम के राष्ट्रीय अध्यक्ष घनश्याम गुप्ता जावेरी का, उन्होंने आगे कहा कि पिछले दिनों मुझे खाटू श्याम ने सपने में दर्शन देकर कहा कि एक खाटू धाम दिल्ली में भी होना चाहिए जिसे दिल्ली धाम के नाम से जाना जाएगा, वैसे तो मैं इतना बड़ा भक्त नहीं हूँ लेकिन जब मैने अपने दोस्तों से ये बात कही तो उन्होंने कहा की खाटू जी ने आपको चुना है इस काम के लिए आप शुरूआत कीजिये उनके सारे भक्त आपके साथ जुड़ते जायेगे और ऐसा हुआ भी । आज दिल्ली से लगभग 8 हज़ार लोग जुड़ गए है।

संस्था के नगर महामंत्री सत्य भूषण जैन ने कहा की श्री खाटू श्याम के अनुयायी वैसे तो दुनिया भर में है, इसलिए पुरे साल राजस्थान में खाटू श्याम मंदिर में भक्तो का ताँता लगा रहता है, कुछ समय पश्चात् दिल्ली में भी उनके भक्त दर्शन कर सकेंगे।  

एस. एस. अग्रवाल जो की नगर अध्यक्ष एवं सालासर धामदाता ने कहा की हमारी ये कोशिश जल्द ही साकार रूप लेगी, जयनारायण अग्रवाल स्वर्ग धाम धामदाता ने कहा की यहाँ हमने 165 ऊँचा तिरंगा झंडा भी लगाया है जिसका उद्धघाटन करने दिल्ली सरकार के मंत्री सतेंद्र जैन आये थे, सतीश राम के. गोयल ने कहा की खूबसूरत शुरुआत तो हो चुकी है पर हम दो साल के भीतर ही इसको पूरा करने की कोशिश करेंगे। आज लगभग 25 हज़ार भक्तो ने दर्शन किये जिनके लिए हमने सारी सुविधा का सामान रखा है। इस अवसर पर हज़ारो भक्त विक्रम सिंघानिया, डॉ नरेशन शास्त्री, राष्ट्रीय महामंत्री संजीव कुमार मित्तल, रमेश गुप्ता, पवन सिंघल, मधु गोपाल गोयल, अनिल गुप्ता , नवीन गर्ग, कुलदीप गोयल व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित हुए।