गलगोटिया विश्वविद्यालय में ध्वनि प्रदूषण पर कार्यशाला का आयोजन



गौतम बुद्ध नगर (अमन इंडिया)।


गलगोटिया विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय स्वयं सेवक इकाई की टीम शक्ति द्वारा ध्वनि प्रदूषण पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में जनसंचार विभाग के प्रोफेसर डॉ0 हरीश कुमार, ने भाग लिया।

गलगोटिया एनएसएस प्रभारी डॉ0 ए0 राम पांडे ने दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ0 ए0 राम पांडे ने कहा कि लोगों को उनकी आवाज के प्रति जागरूक करने के लिए ही आवाज दिवस की शुरूआत की गई थी। हाल के कुछ वर्षों में आवाज संबंधी समस्याएं और बीमारियां भी बढ़ रही है। स्मोकिंग, ड्रग और तेज बोलने के कारण लोग अपनी आवाज को क्षति पहुंचा रहे हैं। आपने भी महसूस किया होगा कि किसी पार्टी, ट्रिम, समारोह आदि में अगर आपने चिल्ला कर बात की हो तो आपकी आवाज बैठ जाती है। इन सब चीजों के प्रति जागरूरक होने में ही आज के कार्यक्रम की सार्थकता है। प्रो0 हरीश कुमार ने सबसे पहले कार्यक्रम के उद्देश्यों और इसके महत्व पर प्रकाश डाला। सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि आपकी आवाज एक बेहद खूबसूरत तोहफा है। इसे संजोकर रखने की जरूरत है क्योंकि आज ध्वनि प्रदूषण के कारण लोग तेज आवाज में बात करने लगे है इससे उनकी आवाज पर खासा बुरा प्रभाव देखने को मिलता है। कार्यक्रम में ऐसे लोगों के बारे में बताया गया जिनकी आवाज कैंसर या किसी अन्य बीमारी के कारण चली गई। इसलिए लोगों को ध्वनि प्रदूषण के प्रति जागरूक होना चाहिए और ध्वनि प्रदूषण करने से बचना चाहिए। कार्यक्रम में कंप्यूटर विज्ञान विभाग के डॉ0 अरविंद कुमार, नर्सिंग विभाग की मिस प्रांजलि मिश्रा सहित कुल 100 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन मिस प्रांजलि मिश्रा और धन्यवाद ज्ञापन एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी डॉ0 ए0 राम पांडे ने किया।